Home Cricket विराट कोहली T20 वर्ल्ड कप टीम से बाहर, आईपीएल में खराब प्रदर्शन...

विराट कोहली T20 वर्ल्ड कप टीम से बाहर, आईपीएल में खराब प्रदर्शन बनी इसकी बड़ी वजह !

आईपीएल 2022 के प्रदर्शन पर सेलेक्टर्स ने अपनी नजर बनाए रखी है। इसका मुख्य कारण ये भी है, की अक्टूबर नवंबर में टी20 वर्ल्ड कप का आयोजन होना है। इस साल ऐसे कई खिलाड़ी सामने आए जो भारतीय टीम में जगह बना पाए, और ऐसा इसलिए क्योंकि इन खिलाड़ियों ने पिछले साल आईपीएल में कमाल का प्रदर्शन किया था। आईपीएल के इस सीजन की बात करे, तो इस लीग के मुकाबले 26 मार्च से शुरू हो गए थे। और अब तक 74 में से 69 मुकाबले खेले जा चुके है। वही प्लेऑफ की 4 टीमें भी तय हो गई है। इस टूर्नामेंट का फाइनल मुकाबला अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेला जाएगा। आइए जानते है, की इस साल प्रदर्शन के आधार पर टी20 वर्ल्ड कप में किस खिलाड़ी को टीम में शामिल किया जा सकता है।

ईएसपीएन क्रिकइंफो रिपोर्ट के अनुसार, आईपीएल पावर प्ले को देखा जाए तो पृथ्वी शॉ सबसे शानदार खिलाड़ी साबित हुए है। इस दौरान पृथ्वी ने 155 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए है। वही रोहित शर्मा का स्ट्राइक रेट मात्र 127 का रहा। दूसरी ओर ईशान किशन 124 और शिखर धवन का स्ट्राइक रेट 123 का रहा। बता दे, की टी20 के पहले 6 ओवर बेहद महत्वपूर्ण साबित होते है, और इन ओवरों के दौरान टीमें अधिक से अधिक रन हासिल करने के बारे में सोचती है। केएल राहुल का स्ट्राइक रेट मात्र 114 का था, लेकिन इसके बाद भी रोहित और केएल राहुल को बतौर ओपनर चुना जाना तय है।

6 ओवरों के बाद मिडिल ओवर्स की बात करे, तो इन ओवरों में रन की गति को बढ़ाए रखना बहुत अच्छा होता है। आईपीएल के हिसाब से देखे तो विराट का स्ट्राइक रेट 114 वही श्रेयस अय्यर का 126 का स्ट्राइक रेट देखने मिला। हालाकि इस बीच रोहित ने 132 और केएल राहुल ने 138 के स्ट्राइक रेट से रन हासिल किए है। इस बीच स्पिन गेंदबाजों के सामने विराट का स्ट्राइक रेट और भी नीचे गिर जाता है, जो सिर्फ 104 के आसपास ही रहता है। वही स्पिन गेंदबाजों के खिलाफ केएल राहुल 117, श्रेयस 120 और रोहित 127 के स्ट्राइक रेट से रन बनाते है।

इस कड़ी में अगर हम फिनिशर की बात करे, तो पिछले दो सीजन में हार्दिक पांड्या, रवींद जडेजा और दिनेश कार्तिक का स्ट्राइक रेट 150 के करीब होता है। हालाकि इन नामों में ऋषभ पंत भी शामिल है। दोस्तो अगर टीम में स्पिन गेंदबाजों की बात करे, तो इस रोल के लिए काफी अहम जोड़ी बनाई जाती है। खिलाड़ियों की बात करे, तो राजस्थान रॉयल्स के लिए बतौर स्पिनर अश्विन और चहल ने बहुत अच्छा काम किया है। वही दिल्ली कैपिटल की टीम से अक्षर और कुलदीप यादव ने सभी का ध्यान अपनी ओर खींचा है।

तेज गेंदबाजों की बात करे, तो आईपीएल के इस सीजन में बहुत से गेंदबाज सामने आए, जिन्होंने अपने प्रदर्शन से कई लोगो को प्रभावित किया है। जिसमे उमरान मालिक का नाम सबसे पहले शामिल होता है। क्योंकि इस खिलाड़ी में लगातार 150 किलो मीटर की गति से गेंदे फेकी है। वही शुरुवात के 6 ओवरों में जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर और दीपक चाहर विकेट हासिल करने में माहिर है।

हालाकि इस सीजन हमे दीपक का प्रदर्शन एक भी मैच में देखने नही मिला क्योंकि वे चोट के कारण इस सीजन में नही खेल पाए थे। वही डेथ ओवर्स को देखे तो इसकी जिम्मेदारी अर्शदीप सिंह, हर्षल पटेल और आवेश खान के कंधो में देनी चाहिए क्योंकि ये खिलाड़ी डेथ ओवर्स के माहिर खिलाड़ी है। आइए अब जानते है, की आखिर कौन ऐसे खिलाड़ी हो सकते है, जिन्हे वर्ल्ड कप के लिए 15 सदस्यो वाली टीम में मौका मिल सकता है।

केएल राहुल, पृथ्वी शॉ, रोहित शर्मा, सूर्यकमार यादव, संजू सैमसन, राहुल त्रिपाठी, हार्दिक पंड्या, रवींद्र जाडेजा, ऋषभ पंत, आर अश्विन, युजवेंद्र चहल, अर्शदीप सिंह, दीपक चाहर, हर्षल पटेल, जसप्रीत बुमराह।