Home Cricket टी-20 टीम में जगह ना मिलने पर शिखर धवन का छलका दर्द,...

टी-20 टीम में जगह ना मिलने पर शिखर धवन का छलका दर्द, बताया कब लेंगे संन्यास !

भारतीय टीम के दिग्गज बल्लेबाज खिलाड़ी शिखर धवन वनडे फॉर्मेट के ताबड़तोड़ खिलाड़ियों में से एक है। हालाकि उनका मानना है, की वे अभी टी20 क्रिकेट में भी टीम के लिए काफी योगदान देने की क्षमता रखते है। दिल्ली के 36 साल के धवन को उम्मीद है, की वे अभी भी लगभग 3 साल तक अपने क्रिकेट करियर को बरकरार रख पाएंगे।

इस साल धवन आईपीएल में पंजाब किंग्स के साथ खेल रहे है, और उन्होंने इस सीजन शानदार प्रदर्शन करते हुए अपने जबरदस्त फॉर्म का नजारा पेश किया है। पंजाब किंग्स का आईपीएल में अभी एक और मैच बचा हुआ है।

बताना चाहेंगे, की पिछले साल श्रीलंका के दौरे पर भारतीय टीम के कप्तान के साथ साथ धवन ने लगातार रन भी बनाए थे। हालाकि इसके बावजूद उन्हे टी20 वर्ल्ड कप टीम में जगह नहीं दी गई थी।

लेकिन अब शिखर धवन उम्मीद कर रहे है, की दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 9 जून से शुरू होने वाली घरेलू टी20 सीरीज में उन्हे शामिल किया जाएगा। उनका कहना है, की उनका अनुभव इस सीरीज में काफी मददगार साबित हो सकता है।

पीटीआईके एक इंटरव्यू में धवन ने बताया, की मेरे हिसाब से मैं अपने अनुभव के चलते क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट में अपना योगदान दे सकता हूं। टी20 में मैने बहुत अच्छा किया है, मुझे जो भूमिका दी गई मैने उसमे अच्छा प्रदर्शन किया है। जिस भी फॉर्मेट में मैं खेल रहा हूं, मैने उसमे निरंतरता बनाए रखी है।

चाहे वह आईपीएल हो या घरेलू सीरीज मैने मैं इसका पूरा मजा उठा रहा हूं। श्रीलंका के खिलाफ भारतीय टीम में उन्हे शामिल न किए जाने पर उन्हे काफी निराशा हुई थी, लेकिन उन्होंने सकारात्मक सोचा जिसका उन्हे फायदा मिला।

इस बारे में बातचीत करते हुए उन्होंने बताया, की हां मैं एक सकारात्मक इंसान हूं। पिछले साल भारतीय टीम का नेतृत्व करना मेरे लिए किसी सपने से कम नहीं था। टी20 वर्ल्ड कप के लिए चयनकर्ताओं को लगा की टीम में शामिल किए गए खिलाड़ी मुझसे बेहतर है। हालाकि इसमें कोई बुराई नही है।

मैं उनके फैसले का सम्मान करता हूं। जीवन में जो भी हो आप उसे स्वीकार करे, और अपना काम करते रहे। मैं सिर्फ उन चीजों पर ध्यान देता हूं, जो मेरे नियंत्रण में है। इसके अलावा मुझे मिले हुए मौके का मैं भरपूर फायदा उठाता हूं।

बताते चले, की शिखर धवन ने भारत के लिए 34 टेस्ट, 149 एकदिवसीय और 64 टी20 मुकाबले खेले है। और धवन अभी अगले 3 सालो तक और अधिक क्रिकेट खेलना चाहते है। भारतीय टीम के लिए शिखर धवन ने 2010 में डेब्यू किया था। धवन ने बताया, की मैं अपने ऊपर बिना किसी बात के दवाब नही डालता, ये एक ऐसी चीज है, जो कभी समाप्त नहीं होती।

अगर मैं चीज़ों को अलग नजरिए से देखूंगा तो मुझे ज्यादा खुशी नही होगी। एकदिवसीय खेल में मेरा औसत 45.53 का है। मैं हमेशा ही अपने खेल में सुधार करने में लगा रहता हूं। हमेशा इस बारे में सोचता हूं, की कैसे खुद को बेहतर कर सकूं। बतौर क्रिकेटर हमे अपने पैर जमीन में ही रखने चाहिए, और अच्छा खिलाड़ी बनने के लिए हमेशा फिट रहना चाहिए।

आगे धवन ने कहा, की मैं अभी कम से कम अगले 3 सालो तक और क्रिकेट खेलूंगा। मैने पिछले कुछ सालो में अच्छी बल्लेबाजी की है। मैं आशान्वित और सकारात्मक हूं, की जिस तरह से मैं प्रदर्शन कर रहा हूं वैसे मैं कई मील के पत्थर हासिल करने की क्षमता भी रखता हूं। मेरा ध्यान मंजिल में नही बल्कि मेरे सफर में है। ये ऐसे है, की मैं कैसे बतौर क्रिकेटर खुद पर सुधार ला सकता हूं।

वही आईपीएल में पंजाब किंग्स के प्रदर्शन के बारे में पूछे जाने पर धवन ने कहा, की हमारी टीम को थोड़ा और निरंतर प्रदर्शन करना चाहिए था। पिछले कुछ मुकाबले में टीम आरसीबी के खिलाफ हार के बाद से प्लेऑफ की रेस से बाहर हो गई है। आगे उन्होंने कहा, की मैं टीम के लिए और मैच जीतना पसंद करता हूं। हमने टीम में रहकर कभी बल्लेबाजी इकाई तो कभी गेंदबाजी इकाई के रूप में अच्छा प्रदर्शन किया है। लेकिन हमे अधिकतर मौकों पर दोनो इकाई को बेहतर करना चाहिए था, अगर ऐसा होता तो हम थोड़े और मजबूत स्थिति में नजर आते।