Home Cricket सीरीज ड्रॉ होने के बाद ऋषभ पंत को हुआ अपनी गलती का...

सीरीज ड्रॉ होने के बाद ऋषभ पंत को हुआ अपनी गलती का एहसास, कह दी इतनी बड़ी बात !

भारत और साउथ अफ्रीका के बीच बंगलुरु में टी 20 सीरीज का आखरी मुकाबला खेला गया। हालाकि बारिश के चलते इस मुकाबले को रद्द करना पड़ा।

और ये सीरीज 2.2 से ड्रॉ हो गई, इस सीरीज को दोनो टीमों को साझा करना पड़ा उस समय कप्तान ऋषभ थोड़ा निराश दिखे। उन्होंने कहा, की इस सीरीज से टीम को थोड़े सकारात्मक नतीजे देखने मिले।

जहां भारत ने शुरुवाती दो मुकाबले हारने के बाद जोरदार वापसी की, और अगले दोनो मुकाबलों में जीत दर्ज की। 2.2 के होने के बाद इस सीरीज का आखरी निर्णायक मुकाबला मैच के चलते सिर्फ 3.3 ओवर हो सके और बारिश के चलते मैच को रद्द कर दिया गया।

बता दे, की मुकाबला शुरू होने के ठीक पहले बारिश हुई जिससे मुकाबले के शुरू होने में 50 मिनट की देरी हुई, जिससे मुकाबले को 19 ओवरों का कर दिया गया।

इस दौरान मैदान में भारतीय पारी सोना जलवा दिखा रही थी, की उनकी पारी के चौथे ओवर में एक बार फिर से बारिश ने अपना कहर बरसाया, और दुबारा मैच शुरू ही नही हो सका। दूसरी बार बारिश आने तक भारत 3.3 ओवरों में 2 विकेट के नुकसान में 28 रन हासिल कर पाया था। ये मैच सिर्फ 16 मिनट तक ही चल सका।

ऋषभ पंत ने पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन के दौरान कहा, की ये थोड़ा निराशाजनक है, लेकिन इसलिए सकारात्मक पक्ष रहे। खासकर जब पूरी टीम 2.0 से पीछे थी और वापसी करने में जो जज्बा दिखाया वो काबिले तारीफ थी।

हम मुकाबले को जीतने में काफी प्रयास कर रहे थे। उन्होंने कह, की गलतियां होती है, लेकिन हम सही दिशा में बढ़ रहे है। मेरे हिसाब से मेने पहली बार इतने टॉस हारे है। लेकिन ये सब मेरे नियंत्रण में नही है। मैं इसके बारे में कुछ ज्यादा नहीं सोच रहा।

आगे ऋषभ पंत ने कहा, की हमारी टीम की नजरे अब 1 से 5 जुलाई तक होने वाले इंग्लैंड के आखरी टेस्ट मुकाबले पर टिकी है। उन्होंने बताया, की टीम के नजरिए से देखा जाए तो अब इंग्लैंड में अंतिम टेस्ट मैच जीतना है। और निजी तौर पर मैं टीम की जीत पर अधिक योगदान देना चाहूंगा।

वही दूसरी ओर साउथ अफ्रीका के कप्तान केशव महाराजा भी मैच रद्द होने से बेहद निराश है। केशव महाराजा ने कहा, की ये काफी निराशजनक रहा, की मैच पूरा खेलने नही मिला। इस रोमांचक दौरे का अंत भी काफी रोमांचक होता, लेकिन हम मौसम को नियंत्रित नहीं कर सकते।

अगर आप देखे तो हमने शुरुवात के दो मुकाबलों में कुछ संयोजन आजमाए। हमारा कार्य प्रगति पर है, और हम अलग अलग संयोजनों को आजमा रहे है। जिससे हमे ये पता चले, की वर्ल्ड कप के लिए हमारी टीम कैसी होगी। उन्होंने आगे कहा की ये भारत की मजबूत टीम थी, जिसका हमने सामना किया। लेकिन हम किसी चीज को हल्के में नहीं लेगे।