Home Cricket केएल राहुल की धीमी पारी देखकर भड़के रवि शास्त्री, जानिए क्या कहा...

केएल राहुल की धीमी पारी देखकर भड़के रवि शास्त्री, जानिए क्या कहा पूर्व भारतीय कोच ने !

आईपीएल 2022 का एलिमिनेटर मुकाबला खत्म हो गया है। ये मुकाबला ईडन गार्डन में लखनऊ और आरसीबी के बीच खेला गया, जहां लखनऊ हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गई है। वही आरसीबी क्वालीफायर 2 में प्रवेश कर चुकी है।

इस मुकाबले में आरसीबी ने लखनऊ को 14 रनो से हराया और टूर्नामेंट से बाहर किया। पहले बल्लेबाजी करते हुए आरसीबी ने लखनऊ के सामने 208 रनो का लक्ष्य पेश किया था, लेकिन आरसीबी के गेंदबाजों ने अपनी धमाकेदार गेंदबाजी से लखनऊ टीम की पारी को 193 रनो पर खत्म कर दिया।

केएल राहुल की बात करे, तो पिछले मैच की तरह ही इस मैच में भी राहुल ने खतरनाक बल्लेबाजी की थी। यहां उन्होंने 58 गेंदों में 79 रनो की लाजवाब पारी को अंजाम दिया था।

दोस्तो इस मुकाबले में राहुल ने रन बनाए है, लेकिन इस तरह के मैच के लिए राहुल के बल्ले से ये रन जिस धीमी गति के साथ बाहर आए थे, उसके चलते बहुत से दिग्गज खिलाड़ी अब राहुल की आलोचना करने लगे है।

दोस्तो लखनऊ बनाम आरसीबी के एलिमिनेटर मुकाबले के दौरान राहुल के बल्ले से काफी धीमी गति से रन निकल रहे थे, जिसके लिए उन्हें काफी ट्रोल किया गया और अब बहुत से दिग्गज भी उनकी आलोचना कर रहे है। इस कड़ी में सबसे पहला नाम रवि शास्त्री का शामिल है। जिन्होंने राहुल की ऐसी धीमी पारी को देखकर कई तरह के सवाल उठाए है।

स्टार स्पोर्ट्स में बातचीत के दौरान रवि शास्त्री ने बताया, की उन्हे थोड़े पहले से तेज गति वाले रन बनाने चाहिए थे। कभी कभी काफी लंबा समय इंतजार करना होता है, लेकिन इस मुकाबले में राहुल को 9वे से 14वे ओवर तक शानदार फॉर्म दिखाते हुए रन बनाने की जरूरत थी। और सबसे ज्यादा जरूरी ये है, की उस साझेदारी में रन बनाना बहुत आवश्यक होता है।

आगे शास्त्री ने बताया, की जब दीपक और राहुल दोनो बल्लेबाजी कर रहे थे, तो मेरे हिसाब से राहुल को भी थोड़ा बड़े बड़े शॉट्स खेलने की जरूरत थी, क्योंकि दूसरी ओर दीपक भी बेहतरीन बल्लेबाजी करते नजर आ रहे थे। इस मुकाबले में राहुल को थोड़ा चांस लेकर ज्यादा रन बनाने चाहिए थे।

ये अपने ओवर के 9वे से 13 ओवर के बीच ज्यादा रन बनाने चाहिए थे। क्योंकि टीम के अंतिम ओवर में फिर से हर्षल पटेल आने वाले थे। लेकिन अगर उन्हें दोनो के बीच रणनीति मिलती तो आरसीबी थोड़ा परेशान हो सकती थी।