Home Cricket इस भारतीय खिलाड़ी के पिता पहुंचे जेल, करोड़ो की धोखाधड़ी के आरोप...

इस भारतीय खिलाड़ी के पिता पहुंचे जेल, करोड़ो की धोखाधड़ी के आरोप में किए गए गिरफ़्तार !

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी और विकेटकीपर बल्लेबाज नमन ओझा के पिता विनय ओझा को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

इस खिलाड़ी के पिता पर सवा करोड़ रुपए के घपले का आरोप लगाया गया है। नमन के पिता की गिरफ्तारी सोमवार 6 जून की शाम मध्यप्रदेश में स्थित बैतूल के मुल्ताई से की गई है। विनय ओझा फिलहाल ग्राम जोलखेड़ा में बैंक ऑफ महाराष्ट्र की शाखा में पदस्थ थे।

फिलहाल इस बैंक मैनेजर के ऊपर धोखाधड़ी सहित बहुत सी धाराओं पर केस दर्ज किए गए है। और खबरे ये भी है, की आज उनकी कोर्ट में पेशी होने वाली है। धोखाधड़ी और दूसरी धाराओं के चलते विनय पिछले काफी समय से फरार चल रहे थे।

जिनकी तलाश पुलिस लगातार कर रही थी। लेकिन अब पुलिस की तलाश खत्म हो चुकी है। और उन्हे बैतूल के मुल्ताई से गिरफ्तार भी कर लिया गया है।

एसडीओपी नम्रता सोंधिया से मिली जानकारी के अनुसार उन्हे एक दिन की रिमांड पर रखा गया है। दरअसल दोस्तो साल 2013 से बैंक ऑफ महाराष्ट्र शाखा में पदस्थ बैंक मैनेजर अभिषेक रत्नम और विनय ओझा मिलकर झूठे नाम और फोटो के चलते किसान क्रेडिट कार्ड बनाकर बैंक से पैसे निकालते थे।

तरोड़ा बुजुर्ग निवासी दर्शन पिता शिवलु की मौत होने के बाद भी इसके नाम से खाता खोलकर लगातार पैसे निकालते रहे। और ऐसा ही दूसरे किसानों के नाम पर लगातार किसान कार्ड बनाकर लगभग सवा करोड़ रुपए की राशि निकलवा ली।

राशि निकालने के बाद बैंक मैनेजर अभिषेक रत्नम, विनय ओझा, लेखपाल निलेश छलोत्रे, दीनानाथ राठौर ने मिलकर आपस में रकम को आधा आधा कर लिया। और फिर मामले की जानकारी लगने के बाद पुलिस ने अभिषेक, विनय निलेश और बाकी दूसरो के खिलाफ धारा 409, 420, 467, 468, 471, 120 बी 34 और आईटी एक्ट की धारा 65, 66 के तहत केस दर्ज किया है।

इस मामले से जुड़े बैंक मैनेजर अभिषेक रत्नम और निलेश छलोत्रे की गिरफ्तारी पहले ही कर ली गई थी। कैसे दर्ज होने के बाद विनय फरार थे हालाकि अब उन्हे भी पुलिस ने दबोच लिया है।

विनय के बारे में बताए तो ये भारत के पूर्व खिलाड़ी नमन ओझा के पिता है। जिन्होंने क्रिकेट दुनिया में काफी नाम कमाया है। वही साल 2021 में नमन ने क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से सन्यास ले लिया था।

एसडीओपी नम्रता सोधिया के मुताबिक घपले के मामले में पूर्व क्रिकेटर नमन ओझा के पिता विनय ओझा को गिरफ्तार करने के बाद न्यायालय में पेश किया। उन्हे एक दिन पुलिस रिमांड देने का निवेदन किया गया था। जिसे न्यायालय ने स्वीकारते हुए नमन ओझा के एक दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया।