Home Cricket हार्दिक पांड्या ने फाइनल में पहुंचने पर किया एमएस धोनी को याद,...

हार्दिक पांड्या ने फाइनल में पहुंचने पर किया एमएस धोनी को याद, फिर बोले- ‘मेरा नाम बिकता हैं’

हार्दिक पांड्या को हम सभी जानते है, की इन्होंने अपने क्रिकेट करियर में बहुत से मुकाम हासिल किए है। साथ ही उन्होंने अपने छोटे से इंटरनेशनल कैरियर में चढ़ाव, उतार, सर्जरी, विवादो का सामना भी किया है।

इस पर हार्दिक का कहना है, की उन्होंने अपने जीवन की हर एक चीज को हंसते हुए अपनाया है। लेकिन फिलहाल हार्दिक पांड्या ने इन सभी चीजों को पीछे छोड़ा और आईपीएल 2022 में गुजरात टाइटंस के लिए ना सिर्फ ऑलराउंडर बने बल्कि टीम के कप्तान बनकर टीम को आईपीएल शुरुवात से आखिर तक नंबर 1 पर बनाया रखा और फाइनल में भी पहुंचाया।

पहले क्वालीफायर में राजस्थान रॉयल्स को 7 विकेट से हराने के बाद हार्दिक ने वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया, की लोग बात करेगे। ये उनका काम है। इसमें मैं कुछ नहीं कर सकता। आगे उन्होंने कहा, की हार्दिक पांड्या का नाम हमेशा बिकता है। हालाकि मुझे इन सब से कोई दिक्कत नही है, में इसका सामना मुस्कुराते हुए करता हूं।

मुंबई इंडियंस के साथ अपनी कामयाबी के बाद उन्होंने साल 2016 में इंटरनेशनल क्रिकेट से पदार्पण किया था। उस दौरान हार्दिक पांड्या की तुलना भारत को पहला वर्ल्ड कप जिताने वाले कप्तान कपिल देव से की जाने लगी थी।

फिर साल 2019 में महिलाओं के ऊपर गलत टिप्पणियां करने के चलते उन्हें खेल से निलंबित कर दिया था, लेकिन बाद में उन्होंने बीसीसीआई समिति से माफी मांगी। हार्दिक ने भारत के लिए अपना आखरी मैच 8 नवंबर को हुए दुबई में टी20 वर्ल्ड कप में नामीबिया के खिलाफ खेला था। फिर उस समय से उनकी कमर की सर्जरी चल रही थी, और वे गेंदबाजी में लगातार संघर्ष कर रहे थे।

मुंबई इंडियंस से जाने के बाद गुजरात टाइटंस से उन्हे पहले ड्राफ्ट में ही खरीद लिया। गुजरात में उन्हे 15 करोड़ की बड़ी रकम दी थी।

जब उन्हें गुजरात की कप्तानी दी गई थी, उस समय भी कई लोगो ने उन पर सवाल उठाए, परंतु एमएस धोनी को अपना गुरु मानने वाले हार्दिक ने अपनी कप्तानी से आलोचकों के मुंह पर भी ताला लगा दिया था। उन्होंने धोनी के बारे में बात करते हुए बताया, की माही भाई ने मेरे जीवन में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

वह मेरे लिए भाई, दोस्त और फैमिली की तरह है। मैने उनसे बहुत सी चीजे सीखी है। निजी तौर पर मैं मजबूत रहकर ही इन सभी चीजों का सामना करना पाया। इस सीजन हार्दिक ने 45 से ज्यादा की औसत से 453 रन हासिल किए है। जहां उनका स्ट्राइक रेट 132 का रहा। इसके अलावा हार्दिक ने 7.53 की इकोनॉमी रेट से 5 विकेट भी अपने नाम किए है।