Home Cricket ‘तुम तेज़ गेंदबाज़ नही हो समझे…’, दूसरे T20 में हार के बाद...

‘तुम तेज़ गेंदबाज़ नही हो समझे…’, दूसरे T20 में हार के बाद युजवेंद्र चहल पर जमकर भड़के गौतम गंभीर

फिलहाल भारत और साउथ अफ्रीका के बीच टी20 सीरीज खेली जा रही है। जिसमे दो मैच खेले जा चुके है। और भारत फैंस के लिए बेहद निराशाजनक खबर है, की दोनो मुकाबलों में भारत की हार हुई है।

और इसी के साथ अब भारत साउथ के सामने 0.2 से पीछे है। कटक में खेले गए दूसरे मुकाबले में भारत को 4 विकेट से हार का सामना करना पड़ा।

लगातार दो मुकाबले हारने के बाद भारतीय टीम के पूर्व खिलाड़ी गौतम गंभीर ने लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल को अपना निशाना बनाया है।

चहल पहले मुकाबले की तरह दूसरे मुकाबले में भी असफल रहे और अपने कोटे के 4 ओवरों में उन्होंने 49 रन दान कर दिए और सबसे महंगे ओवर फेंके।

4 ओवरों में उन्होंने मात्र 1 विकेट ही हासिल किया। वही पहले मैच में उन्होंने अपने 2.1 ओवर में 26 रन दिए थे, जिसके चलते अब उनके ऊपर कई तरह के सवाल उठ रहे है।

गौतम गंभीर का मानना है, की चहल ज्यादा आक्रामक मानसिकता के साथ जाकर विकेट ले। भले ही इस दौरान वे 50 रन खर्चे। स्टार स्पोर्ट्स से बातचीत के दौरान गौतम ने बताया।

गौतम ने कहा, की अपनी गति को बदलना बेहद जरूरी है। अगर चहल सोचते है, की मैं टाइट गेंदबाजी करूंगा और विकेट हासिल करूंगा तो ऐसा नही है।

वे 4 ओवरों ने 50 रन दे सकते है। लेकिन अगर वे 3 विकेट लेते है, तो वो टीम को इस स्थिति में ले जा सकते है, जहां वे मार्च अपने नाम कर सके। लेकिन अगर वे 40.50 रन देकर मात्र 1 विकेट हासिल करते है, तो ये एक बड़ी समस्या है।

गौतम गंभीर ने आगे बातचीत के दौरान बताया, की चहल एक लेग स्पिनर है। लेकिन वे अपना काम नही कर पाए जिससे की बल्लेबाजों को बैटिंग के दौरान मुश्किल हो। इसलिए साउथ अफ्रीका उनके खिलाफ आसानी से रन बनाए जा रहे था।

गौतम गंभीर ने आगे कहा, की उसे धीमी गेंदबाजी करनी होगी, और बल्लेबाजों को चकमा देना होगा। अगर वे एक दो छक्के भी लगाते है, तो कोई बात नही।

दूसरे टी20 में चहल के खिलाफ किसी भी बल्लेबाज ने क्रीज से बाहर निकल कर खेलने की कोशिश नही की। वो एक लेग स्पिनर को क्रीज से ही मार रहे थे, जिसका मतलब है, की वो तेज गेंदबाजी करने की कोशिश कर रहे थे। इस तरह की गेंदबाजी की उम्मीद हम अक्षर से करते है, नाकी चहल से।