Home Cricket वीडियो : ‘मैन ऑफ द मैच’ लेते हुए दिनेश कार्तिक हुए इमोशनल,...

वीडियो : ‘मैन ऑफ द मैच’ लेते हुए दिनेश कार्तिक हुए इमोशनल, इस खिलाड़ी को दिया कमबैक का श्रेय

दोस्तो आज सौराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम राजकोट में भारत और साउथ अफ्रीका के बीच टी20 सीरीज का चौथा मुकाबला खेला गया। जहां तीसरे मुकाबले की तरह भारत ने इस बार भी जीत हासिल की है। और अब दोनो टीमें सीरीज में 2.2 से आगे बढ़ रही है।

मुकाबले में टॉस साउथ अफ्रीका के पक्ष में गया, जहां साउथ ने भारत को बल्लेबाजी करने का न्योता दिया। जिसके बाद भारतीय टीम बल्लेबाजी करने मैदान में आई।

टीम के ओपनर्स पहले के मुकाबले इस खेल में थोड़े कमजोर नजर आए। वही तीनो मुकाबले में अर्धशतकीय पारियां खेलने वाले ईशान किशन भी आज मात्र 27 रन बनाकर पवेलियन लौट गए।

दोस्तो जैसे ही ईशान का विकेट गिरा हर कोई निराश हो गया था। लेकिन क्रीज पर हार्दिक और दिनेश ने आज भारतीय टीम को आगे तक ले जाने की जिम्मेदारी संभाल ली थी।

और बेहद शानदार तरीके से टीम को 169 रनो तक पहुंचाया। दोनो ने मिलकर मैदान में चौको और छक्कों की बारिश की और टीम को लोअर स्कोर से बड़े स्कोर तक लेकर गए।

दिनेश कार्तिक की बात की जाए तो आज के मुकाबले में दिनेश ने शानदार अर्धशतक जड़ा। और टीम को आगे बढ़ाने में काफी मदद की। मैच खत्म होने के बाद कार्तिक ने अपना सारा क्रेडिट टीम के कोच राहुल ड्राविन और ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या को दिया, वही अपनी अर्धशतकीय पारी भी दिनेश ने अपना पिता जी को समर्पित की।

दोस्तो मैच के बाद कार्तिक ने कहा, की आज मैं बेहद खुश हूं, मुझे बहुत अच्छा लग रहा है और मैं इससे बहुत खुश हूं। हमारे द्वारा खेला गया, आखरी मैच हमारे प्लान के मुताबिक नही चला। लेकिन आज मैं खुद को अभिव्यक्त करना चाहता हूं।

मेरे हिसाब से डीके थोड़ा अच्छा सोचता है, और हर सिचुएशन को सही ढंग से परखता है। लेकिन ये सब चीजें प्रैक्टिस से आती है। ये सारा क्रेडिट में हमारे कोच राहुल द्रविड़ को देना चाहूंगा।

अगर साउथ अफ्रीका के गेंदबाजों की बात करे, तो उन्होंने हमारे सामने बेहतरीन गेंदबाजी की। हमारे लिए उनकी गेंदे खेलना काफी मुश्किल था। क्योंकि बल्लेबाजी के लिए पिच भी काफी मुश्किल थी, यहां चौके और छक्के लगाने में मुश्किल होती है। हमारी टीम के ओपनर्स बेहद शानदार थे, और उन्होंने हर बार पारी की शुरुवात में बेहद अच्छे तरीके से खेला और टीम को अच्छी शुरुवात दिलाई।

हमारे विकेट गिरने के बाद जब मैं पिच में पहुंचा तब हार्दिक ने मुझसे कहा, की तू अपना पूरा टाइम लेकर खेलना, ये बहुत जरूरी था। मैने कभी बंगलौर के लिए आरसीबी टीम के साथ नही खेला, और मैने बंगलौर में बहुत बार खेला है।

इस सीरीज के बारे में बात करे, तो द्विपक्षीय सीरीज के फाइनल मैच को देखना काफी दिलचस्प है। क्योंकि तीसरे और चौथे मुकाबले में हम बहुत परेशान और नर्वस थे। मैं अपना सारा क्रेडिट कोच राहुल द्रविड़ को देना चाहता हूं जिन्होंने इन सभी चीजों को काफी शांति पूर्वक तरीके से संभाला।