Home Cricket RCB का हीरो ही क्वालीफायर मैच में बना विलेन, छोड़ा जोस बटलर...

RCB का हीरो ही क्वालीफायर मैच में बना विलेन, छोड़ा जोस बटलर का कैच और हार गई टीम !

आईपीएल 2022 के क्वालिफायर मुकाबले में आरसीबी कई सालो बार पहुंची थी जहां फैंस को उम्मीद थी, की इस बार आरसीबी टीम फाइनल खिताब जीतेगी। हालाकि ऐसा कुछ नही हुआ, आरसीबी फैंस के साथ साथ एक टीम का एक बार फिर से आईपीएल खिताब जीतने का सपना टूट गया।

आरसीबी को आरआर के सामने आज के क्वालीफायर मुकाबले में 7 विकेटों से हार का सामना करना पड़ा। एक की टीम 15 सालो बाद यहां तक पहुंची थी हालाकि इसके बावजूद टीम अपना पहला खिताब जीतने में नाकामयाब साबित हुई।

आरसीबी के खिलाफ आरआर के सबसे बढ़िया खिलाड़ी की बात करे, तो वे जॉस बटलर साबित हुए जिन्होंने इस मुकाबले में आरसीबी के खिलाफ जबरदस्त शतक लगाया। हालाकि इस मुकाबले में जॉस आउट होने से भी बहुत बचे। आरसीबी के एक खिलाड़ी ने बहुत महत्वपूर्ण समय में जॉस का कैच छोड़ा था, जिसके चलते जॉस को एक नया जीवन मिला और बटलर ने शानदार पारी को अंजाम दिया।

कैच छोड़ने वाला ये खिलाड़ी कोई और नहीं बल्कि दिनेश कार्तिक ही थे। जब आरआर की टीम बल्लेबाजी कर रही थी, तो उसके खिलाफ 11वा ओवर हर्षल पटेल लेकर आए। इस दौरान मुकाबला दोनो टीमों के पक्ष में था।

हालाकि उस समय विकेट के पीछे खड़े कार्तिक ने उसी समय एक आसान सा कैच छोड़ दिया। दोस्तो अगर कार्तिक ने बटलर का ये कैच नही छोड़ा होता तो शायद इस मुकाबले का नतीजा कुछ ही और ही होता। लेकिन कार्तिक द्वारा छोड़ा गया ये कैच बटलर को जीवनदान देकर गया, जिसके बाद बटलर ने शानदार शतक वाली पारी खेली।

दिनेश कार्तिक ने इस पूरे ही सीजन आरसीबी के लिए अच्छा प्रदर्शन किया है। बल्ले से उन्होंने आरसीबी को कई मुकाबले जिताए। लेकिन इस अहम मैच में दिनेश बुरी तरह फ्लॉप रहे।

कार्तिक इस मैच में सिर्फ 7 रन ही बना पाए। इस खराब प्रदर्शन के चलते आरसीबी छोटे से स्कोर पर ही सिमट कर रहे गई, जिससे उन्हें इस मैच में हार का सामना करना पड़ा।

दोस्तो आज के इस मुकाबले में आरआर ने आरसीबी को 7 विकेट से हराया है। इस मुकाबले में आरआर टीम के बल्लेबाजों ने कमाल का प्रदर्शन किया। जिसमे सबसे खास जॉस बटलर साबित हुए। बताना चाहेंगे, की बटलर का ये शतक इस सीजन का चौथा शतक था।

बटलर के चलते ही आरआर टीम ने फाइनल का टिकट हासिल किया है। आरआर की टीम इस बार दूसरी बार आईपीएल के फाइनल में पहुंची है, पहली बार टीम शेन वॉर्न की कप्तानी में न सिर्फ फाइनल में पहुंची थी बल्कि आईपीएल खिताब भी अपने नाम किया था।