Home Cricket भारत के लिए जान तक लगा देते हैं भुवनेश्वर कुमार, फ़िर भी...

भारत के लिए जान तक लगा देते हैं भुवनेश्वर कुमार, फ़िर भी वो इज़्जत नही मिलती उनको, जानिए क्यों?

भारत और आयरलैंड के बीच टी20 इंटरनेशनल सीरीज खेली जा रही है, इस सीरीज में भारत ने इन स्टैंड कप्तान हार्दिक पांड्या ने उपकप्तान भुवनेश्वर कुमार की तारीफ करते हुए बताया, की सीनियर तेज गेंदबाज बहुत सम्मान के हकदार है।

भारतीय टीम ने रविवार को डबलिन के मालाहाइड क्रिकेट क्लब में 7 विकेट से आयरलैंड को हराया था। और इस सीरीज में भारतीय टीम 1.0 से आगे चल रही थी।

हार्दिक ने भुवनेश्वर के बारे में बात करते हुए कहा, की भुवनेश्वर ने कई बार बहुत अच्छे प्रदर्शन दिए है, जिसके चलते उनका सम्मान होना चाहिए। यूपी के भुवनेश्वर कुमार पिछले कुछ समय से चोटों और खराब फॉर्म से जूझ रहे थे।

इतना ही नहीं बल्कि इन्ही चोटों के कारण उन्हें आईपीएल 2020, 2021 से बीच में टूर्नामेंट छोड़कर जाना पड़ा। वही 2021 में टी20 वर्ल्ड कप के दौरान भी चोटों के चलते वे पूरी तरह से फिट नहीं था।

खैर दोस्तो ये पुरानी बात है, लेकिन अब ये अनुभवी तेज गेंदबाज अपने पुराने अवतार में वापिस आ चुके है, जिसे देखकर हार्दिक पांड्या बेहद खुश हैं।

हार्दिक ने भुवनेश्वर कुमार की तारीफ करते हुए बताया, की हर कोई ये बात जनता है, की भुवनेश्वर के अंदर किस तरह की क्वालिटी है? और वे क्या कर सकते है?

जैसा की हम कहते है, की हमेशा आते है, और हर बार वही काम करते है। लेकिन उनके बारे में कोई ज्यादा बात नहीं करता।

उन्होंने आगे कहा, की आप अगर पीछे मुड़कर देखेगे, तो उन्होंने जो प्रदर्शन दिया है, जिस कंसिस्टेंसी के साथ उन्होंने प्रदर्शन किया है, उसका हमे सम्मान करना चाहिए, और वास्तव में वे इस चीज के पूरे हकदार है।

भुवनेश्वर कुमार ने आयरिश कप्तान एंडी बालबर्नी को पहले ही ओवर में आउट कर दिया अपने तीन ओवर के स्पेल में सिर्फ 16 रन दिए। उन्होंने मेजबान टीम को 12 ओवरों में 108/4 के स्कोर तक रोकने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

सबसे महत्वपूर्ण बात ये है, की डबलिन के मैदान में भुवनेश्वर कुमार ने 5 से अधिक इकोनॉमी रेट के साथ शानदार गेंदबाजी की है।

वही अगर भुवनेश्वर के टी20 इंटरनेशनल कैरियर को देखा जाए तो उन्होंने 65 मैच खेले है, इस दौरान उन्होंने 6.91 इकोनॉमी रेट के साथ 65 बल्लेबाज़ों को चलता किया है।

इसके अलावा दाएं हाथ के तेज गेंदबाज ने भारत को 121 वनडे मैच में रिप्रेजेंट करते हुए 5.08 की औसत से 141 बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाने में सफलता पायी है।

पहले मैच में 7 विकेट से शानदार जीत हासिल करने के बाद, भारत अब मंगलवार, 28 जून को उसी मैदान पर दूसरे और अंतिम टी20 इंटरनेशनल मैच को जीतकर सीरीज अपने नाम करना चाहेगा।

हर किसी का ध्यान आईपीएल में शानदार गेंदबाजी करने वाले उमरान मालिक पर हो सकता है, जिन्होंने अपने करियर का पहला टी20 इंटरनेशनल मुकाबला खेला। हालाकि इस खिलाड़ी ने एक भी विकेट अपने नाम नही किया।

उन्होंने एक ओवर में गेंदबाजी की थी, जिसमे उन्होंने विरोधी टीम को 14 रन दे दिए थे। अब वे दूसरे टी20 मुकाबले में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करके विकेट हासिल करने के बारे में सोच विचार करेगे।

भारतीय टीम के लिए पहले टी20 इंटरनेशनल मैच में 29 गेंदों ने 6 चौकों और 2 छक्के की मदद से महत्वपूर्ण 47 रनो की पारी खेलने वाले खिलाड़ी दूसरे मुकाबले में भी इसी तरह का प्रर्दशन देना चाहेंगे।