Home Cricket बाबर आज़म ने दिखाई शानदार खेल भावना, शतक लगाने के बाद भी...

बाबर आज़म ने दिखाई शानदार खेल भावना, शतक लगाने के बाद भी नही लिया ‘मैन ऑफ द मैच’, जानिए क्यों?

पाकिस्तान ने वेस्ट इंडीज को पहले टी20 मुकाबले में 5 विकेट से हराकर 3 मैचों वाली इस सीरीज में 1.0 से बढ़त बना ली है।

पाकिस्तान टीम के जीत की असली वजह टीम के कप्तान बाबर आजम साबित हुए। वेस्ट इंडीज ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पाकिस्तान के सामने 305 रनो का बड़ा स्कोर कायम किया। वही इस लक्ष्य का पीछा करने उतरी पाकिस्तानी टीम के कप्तान ने अपने वनडे करियर का 17वा शतक लगाते हुए टीम को शानदार जीत दिलाई।

मैच खत्म होने के बाद जब बाबर आजम को मैन ऑफ द मैच अवॉर्ड लेने के लिए बुलाया गया। तो उन्होंने अपना ये अवार्ड अपने साथी खिलाड़ी खुशदिल शाह को देने की बात कही। बता दे, की खुशदील शाह ने भी इस मैच में 23 गेंदों में 178 के स्ट्राइक रेट से 41 रनो की जोरदार पारी खेली।

बाबर आजम की इस दरियादिली को देख हर कोई उनकी तारीफ कर रहा है। और कप्तान ने हर किसी का दिल भी जीत लिया है। बताना चाहेंगे, की इस मुकाबले में बाबर आजम ने 107 गेंदों में 9 चौकों की मदद से 103 रन बनाए।

बाबर आजम ने वेस्टइंडीज के खिलाफ इस शतकीय पारी के दम पर बतौर कप्तान वनडे क्रिकेट में 1000 रन पूरे कर लिए हैं और वह ऐसा करने वाले सबसे तेज बल्लेबाज बने हैं।

बाबर ने वनडे क्रिकेट में बतौर कप्तान 1000 रनों का आंकड़ा मात्र 13 पारियों में छुआ। इससे पहले यह रिकॉर्ड विराट कोहली के नाम था जिन्होंने 17 पारियों में 1000 रन बनाए थे।

इसके अलावा बाबर आजम ने वनडे क्रिकेट में दूसरी बात शतक की हैट्रिक लगाते हुए इतिहास रच दिया है। वनडे क्रिकेट में लगातार बाबर का ये तीसरा शतक है।

वेस्ट इंडीज के पहले पाकिस्तानी कप्तान बाबर ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ लगातार शतक लगाए थे। वही इसके पहले उन्होंने साल 2016 में कैरेबियन टीम के खिलाफ लगातार 3 शतक लगाए थे।